Wednesday, August 4, 2010


इस उपचुनाव में आंध्र प्रदेश के
कई रिकार्ड टूटे :सुश्री कविता
तेलंगाना जन जाग्रति की प्रदेश अध्यक्ष कविता
के साथ प्रदीप श्रीवास्तव की विशेष बातचीत
निज़ामाबाद .(आन्ध्र प्रदेश) I उपचुनाव में मिली तेलंगाना राष्ट्र समिति की सफलता ने केवल आंध्र प्रदेश की जनता कों ही नहीं बल्कि पूरे देश कों यह दिखला दिया है कि तेलंगाना की जनता चाहती है कि पृथक तेलंगाना राज्य का गठन हो.यह बात आज यहाँ इस सवांददाता के साथ एक बातचीत में टी.आर .एस मुखिया के.चन्द्र शेखर राव की बेटी एवम तेलंगाना जन जाग्रति की प्रदेश अध्यक्ष सुश्री कविता ने कही.उन्हों ने आगे कहा की इस बार के चुनाव में कई रिकार्ड भी प्रदेश के टूटे हैं .जैसे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष का एक ही प्रत्याशी से दो बार हराना ,ते.दे.पा.जैसी बड़ी पार्टी के उम्मीदवारों की जमानतें जब्त हो जाना मुख्य है.सुश्री कविता ने आगे कहा कि इस उपचुनाव से एक बात और सिद्ध हो गई कि पैसे से आप मतदाता के मन कों नहीं खरीद सकते हैं.यह पूछे जाने पर कि अगले दो माह में महा नगर पालिका के चुनाव होने वाले हैं ,क्या तेरास भी उसमें भाग लेगी?.इस पर कविता का कहना था कि मनपा के चुनाव स्थानीय मुद्दे कों ले कर लड़े जाते हैं ,जिसमें गाली मुहल्लों की समस्याएं होती हैं. पार्टी कों अपनी स्थिति दिखलाने के लिये चुनाव लड़ना पड़ता ही है,वह कोई भी चुनाव हो ,लड़ेंगे जरुर लड़ेंगे . उनहोने आगे कहा की इस चुनाव से एक बात तो सिद्ध हो गई है कि तेलंगानावासियों में तेलंगाना राज्य के गठन कों लेकर विश्वास पैदा हुआ है.हम उपचुनाव में सभी बारह सीटों पर जीते ,जिसमें गयारह सीटें तेरास कों तथा एक सीट (निज़ामाबाद की )भारतीय जनता पार्टी कों मिली है,जिसको हम सब ने समर्थन दिया.इससे दुनिया में एक सन्देश जाता है कि अगर अब तेलंगाना राज्य का गठन नहीं हुआ तो फिर संभव नहीं?
इस लिये अब तेलंगाना राज्य का गठन हो जाना चाहिए.यह पूछे जाने पर कि क्या आप कों लगता हैकि श्री कृष्णा आयोग कमेटी दिसंबर माह में अपनी रिपोर्ट तेलंगाना के पक्ष में देगी,इस पर कविता का कहना था कि मुझे नहीं लगता कि वह एक पक्षीय रिपोर्ट देगी,जहाँ तक में समझती हूँ कि श्री कृष्णा आयोग मिलीजुली रिपोर्ट ही देगी .अगर ऐसा होता है तो तेरास तेलंगाना के गठन के लिये फिर से एक बार व्यापक स्तर पर आन्दोलन छेड़ेगी .हम तेलंगाना लेकर रहेंगे .जब उनसे यह पूछा गया कि सन 2004 के चुनाव के दोरान इसी संवाददाता के साथ बात करते हुए चन्द्र शेखर जी ने कहा था कि तेलंगाना राज्य के गठन होने के बाद उसका पहल मुख्य मंत्री दलित ही होगा? इस बारे में आप क्या सोचती हैं ?इस पर कविता ने कहा कि यदि चन्द्र शेखर राव साहब ने यह कहा था तो कुछ सोचकर ही कहा होगा.में यह बताना चाहती हूँ कि राव साहब जो कहते हैं उसे पूरा करते है भी हैं .तो क्या पार्टी में इस तरह का कोई नेता आप कि नजर में है,जो तेलंगाना का मुख्य मंत्री बनेगा? इस प्रश्न पर कुछ देर कि चुप्पी साधने के बाद कविता ने कहा कि तेरास पार्टी किसी एक समाज,जाति व वर्ग कि पार्टी नहीं है,इसमे सभी लोग शामिल हैं,सभी का बराबर का हक़ है,जहाँ तक में समझती हूँ कि मेरी निगाह में तो कोई नहीं है.जब उनसे इस सवांददाता ने यह पूछा कि क्या आप 2014 के चुनाव में निज़ामाबाद से सांसद का चुनाव लड़ेगीं, क्यों कि इस उप चुनाव में आप ने जी-तोड़ कर आप ने मेहनत कि,और पार्टी के प्रत्याशी कों जितायाभी.इसी कों लेकर लोंगों में इस बात कि चर्चा है?इस प्रश्न पर मुस्कराते हुए कविता ने पहले तो कहा कि नहीं,बिलकुल नहीं,फिर कुछ देर रुकने के बाद बोलीं कि अगर जरुरत पड़ी और यहाँ के लोगों की इच्छा होगी तो जरुर लडूंगी,और उनकी इच्छा कों पूरी करुँगी.अभी तो हम सब के सामने सबसे बड़ा सवाल है की पहले तेलंगाना राज्य का गठन हो ,उसके बाद दूसरी प्राथमिकतायें देखी जाएँगी.

No comments:

Post a Comment