Wednesday, December 22, 2010

निज़ामाबाद की एक शाम युवाओं के नाम

निज़ामाबाद की एक शाम युवाओं के नाम








नेहरू युवा केंद्र का राष्ट्रिय एकात्मकता शिविर बुधवार को निज़ामाबाद में प्रारंभ हुआ ,जिसमे उड़ीसा ,जम्मू कश्मीर ,मध्य प्रदेश ,कर्णाटक एवम महाराष्ट्र से लगभग एक सौ बीस युवक युवतियां भाग ले रहे हैं जिसका शुभारम्भ बुधवार की रात निज़ामाबाद के राजीव गाँधी आडिटोरियम में अतिरिक्त सयुंक्त जिलाधीश अशोक कुमार ने दीप जला कर किया,इस अवसर पर लन्दन में रह रहे निज़ामाबाद के युवा कुचिपुड़ी नर्तक डॉ संदीप बोधनकर ,निज़ामाबाद की नेत्रहीन सितारवादिका(राष्ट्रिय पुरस्कार प्राप्त) सुश्री कीर्ति रानी सहित तमाम युवा कलाकारों को सम्मानित भी किया गया इस अवसर पर ११६ कुचिपुड़ी कलाकारों ने एक सयुंक्त नृत्य प्रस्तुत कर शमा बांध दिया वहीँ कीर्ति के सितार वादन की लहरियों में श्रोता खो गए जबकि छोटे-छोटे बच्चों ने स्थानीय लोक नृत्य प्रस्तुतकर वातावरण को संगीतमय बना दिया.इस मौके पर उड़ीसा के कोरापुर से आये एक कलाकार ने उड़िया में लोकगीत प्रस्तुत किया जिसकी सभी ने सरहना की

No comments:

Post a Comment