Wednesday, January 5, 2011

श्री कृष्ण समिति की रिपोर्ट सार्वजनिक
आन्ध्र को तीन भागों में बटाने की सिफारिश

नई दिल्ली।,अलग तेलंगाना की मांग को लेकर जस्टिस श्रीकृष्ण समिति की रिपोर्ट गुरुवार को सार्वजनिक कर दी गई। रिपोर्ट में आंध्र प्रदेश को 3 हिस्सों में बांटने की सिफारिश की गई है। सीमांध्रा, तेलंगाना को अलग-अलग प्रदेश बनाने की और हैदराबाद को केंद्रशासित राज्य बनाने की सिफारिश की गई है।
इसके अलावा एक अन्य ऑप्शन में रॉयल-तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद बनाई जाए और जब तक सीमांध्रा अपनी राजधानी नहीं बना ले, तब तक वह भी हैदराबाद को अपनी राजधानी बनाए रखे। एक अन्य ऑप्शन में दोनों राज्य जब तक अपनी राजधानी विकसित नहीं कर लेते, उन्हें हैदराबाद को राजधानी के रूप में उपयोग करने की इजाजत मिले। इसके पहले होम मिनिस्टर पी. चिंदबरम ने इस मुद्दे पर गुरुवार की सुबह 8 राजनीतिक पार्टियों की बैठक बुलाई थी। टीआरएस, बीजेपी और टीडीपी ने बैठक का बहिष्कार किया। इस रिपोर्ट के मद्देनजर आंध्र प्रदेश में सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए गए हैं। बैठक में सभी पार्टियों के शामिल नहीं होने पर होम मिनिस्टर पी. चिदंबरम ने अफसोस जाहिर की। उन्होंने कहा कि रिपोर्ट की कॉपी सभी पार्टियों को भेजी जाएगी। चिदंबरम ने कहा कि सभी पार्टियां रिपोर्ट पढ़ने के बाद अपनी राय रखें। गौरतलब है कि 5 सदस्यों वाली जस्टिस श्रीकृष्ण समिति ने 31 दिसंबर को गृहमंत्रालय को अपनी रिपोर्ट सौंपी थी। बैठक में सत्तारूढ़ कांग्रेस पार्टी, प्रजा राज्यम पार्टी (पीआरपी), भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई), मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीएम), मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलिमीन (एमआईएम) और लोक सत्ता के प्रतिनिधी शामिल थे।

No comments:

Post a Comment