Tuesday, March 1, 2011

तेलंगाना की मांग को लेकर तेलंगाना में रेल रोको
कहानी चित्रों की जुबानी













तेलंगाना में रेल रोको....रेलवे को लाखों का नुकसान
निज़ामाबाद | संसद के चल रहे बजट सत्र में पृथक राज्य "तेलंगाना "के गठन के लिए पटल पर बिल रखने की मांग को लेकर चलाये जा रहे आन्दोलन के तहत गठित सयुंक्त समन्वय समिति के अहवाहन पर मंगलवार को तेलंगाना के सभी दस जिलों से गुजरने वाली रेल लाईनों पर धरना व प्रदर्शन का निर्देश दिया था,जिसके तहत आज सभी रेल लाईनों पर रेलें नहीं दौड़ी ,दक्षिण मध्य रेलवे को सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे के बीच 18 मेल व एक्सप्रेस गाड़ियों के सञ्चालन पर रोक लगानी पड़ी हैं.सुबह से ही तेलंगाना समर्थकों ने रेलवे स्टेशनों की ओर कुछ करना सुरु कर दिए थे ,जिसके चलते पुलिस वालों ने उन्हें सुबह ही गिरिफ्तर कर लिया .केवल निज़ामाबाद में ही हजारों लोगों को हिरासत में लिया जा चुका है,जबकी खबर लिखे जाने तक गिरफ्तारियां जारी थीं| रेलवे प्रशासन ने निज़ामाबाद से चलने वाली एवं निज़ामाबाद से गुजरने वाली सत्रह गाड़ियों को पहले ही स्थगित कर दिया था| जिसके चलते निज़ामाबाद रेलवे को ही दोपहर तक 2 .40 लाख रुपये के राजस्व की हानी उठानी पड़ी है.वहीँ कई गाड़ियों के यात्रियों ने अपने आरक्षण पहले से ही स्थगित करवा लिए थे.इस बीच निज़ामाबाद से गुजरने वाली गाड़ियों को महाराष्ट्र के हुजुर साहेब नादेड रेलवे स्टेसन पर ही रोक लिया गया है(देखें सबसे अंतिम चित्र)|खबर लिखे जाने तक रेल रोको आन्दोलन जारी था.

No comments:

Post a Comment