Wednesday, January 18, 2012

डॉ राधेश्याम शुक्ल एवम
प्रदीप श्रीवास्तव को
इंदूर हिंदी सम्मान

निज़ामाबाद | इंदूर हिंदी समिति,निज़ामाबाद द्वारा दक्षिण भारत में हिंदी के विकास में महत्त्व पूर्ण योगदान के लिये दिया जाने वाला सन २०११ एवम २०१२ के पुरस्कारों क़ी घोषणा बुधवार को समिति द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में क़ी गई|प्रेस विज्ञप्ति में यह जानकारी देते हुए समिति के अध्यक्ष राजीव दुआ एवम सचिव एड राज कुमार सूबेदार ने बताया हे कि सन २०११ का इंदूर हिंदी सम्मान स्वतंत्र वार्ता के समूह संपादक डॉ राधेश्याम शुक्ल को तथा सन २०१२ का स्वतंत्र वार्ता निज़ामाबाद के स्थानीय संपादक प्रदीप श्रीवास्तव को दिया जायेगा | प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक हिंदी के वरिष्ठ पत्रकार एवम मानस मर्मग्य डॉ शुक्ल को विगत पंद्रह वर्षों से दक्षिण भारत में हिंदी पत्रकारिता के विकास एवम हिंदी क़ी सेव के लिये दिया जा रहा है | डॉ शुक्ल को अब तक कई पुरस्कारों व सम्मानों से नवाज जा चुका हे |हाल हीमें उन्हें रामनाथ गोयनका पत्रकार शिरोमणि सम्मान से सम्मानित किया गया था | जबकि प्रदीप श्रीवास्त को भी इसी क्षेत्र में हिंदी पत्रकारिता के लिए सम्मानित किया जा रहा है |जिन्हें गत वर्ष आल इण्डिया स्माल न्यूज पेपर्स एसोसिएसन (आइसना )द्वारा भोपाल में राष्ट्रिय पत्रकारिता सम्मान से सम्मानित किया गया था |श्री श्रीवास्तव को सन २०१० में ओड़िसा के थियेटर मूवमेंट द्वारा कोणार्क पत्रकारिता सम्मान से सम्मानित किया गया था |शनिवार २१ जनवरी क़ी शाम ८ बजे निज़ामाबाद के राजीव गाँधी आडिटोरियम में आयोजित एक समारोह में यह सम्माननिज़ामाबाद के शहर विधायक वाई लक्ष्मीनारायण प्रदान करेंगे|प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार इस अवसर पर एक कवि सम्मेलन "निज़ामाबाद क़ी एक शाम,कवियों के नाम " का भी आयोजनकिया गया है | जिसमे राजस्थान कोटा के कुवंर जावेद,मध्य प्रदेश के रतलाम से धमचक मुल्तानी,इंदौर के अतुल ज्वाला (इन्दौरी)
उत्तर प्रदेश के ,लखनऊ से नरेश निर्भीक एवम फैजाबाद से सुश्री व्याख्या मिश्रा के साथ - साथ सथानीय हिंदी व उर्दू के कवि एवम शायर भी अपनी कविताओं से श्रोताओं को मन्त्र मुग्ध करेंगे |

No comments:

Post a Comment