Thursday, February 23, 2012

स्पैम मेल भेजने में भी
हिंदुस्तानी सबसे
आगे

दिल्ली । भ्रष्टाचार में आगे, प्रदूषण में आगे, नेट पर पोर्न देखने में आगे अब पता चला है कि नेट पर स्पैम फेंकने में हम भारतीय सबसे आगे हैं। जनवरी 2012 में भारत से सर्वाधिक स्पैम मेल भेजी गई। भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी क्रांति का एक एक पहलू यह भी है कि दुनिया भर में स्पैम मेल सृजित करने में भारत का पहला स्थान है। एंटी वायरस साफ्टवेयर से जुडे़ एक अध्ययन में कहा गया है कि जनवरी 2012 में भारत से सर्वाधिक स्पैम मेल सृजित की गईं। इस अवधि में दुनिया भर में जितनी स्पैम मेल भेजी गयी उनमें 11.5 प्रतिशत हिस्सेदारी भारत की रही है।

दूसरे स्थान पर इंडोनेशिया रहा है। हालांकि जनवरी 2012 में दिसंबर 2011 इंडोनेशिया में लगभग तीन प्रतिशत कम स्पैम सृजित की गईं। इंडोनेशिया के बाद तीसरे स्थान पर दक्षिण कोरिया रहा है। दक्षिण कोरिया से जनवरी 2012 में पिछले महीने के मुकाबले 1.6 प्रतिशत अधिक स्पैम मेल सृर्जित की गई हैं।

स्पैम मेल सृजित करने के मामले में दक्षिण अमेरिका के ब्राजील को चौथा और पेरू को पांचवां स्थान मिला है। हालांकि स्पैम मेल सृजित करने में ब्राजील में 2.1 प्रतिशत और पेरू में 2.5 प्रतिशत की गिरावट आई है। विएतनाम को स्पैम मेल भेजने में छठा स्थान मिला है। दिसंबर 2011 में भी यह इसी स्थान पर था। विश्व स्तर पर स्पैम मेल भेजने के मामले में विएतनाम की हिस्सेदारी 0.25 प्रतिशत है। स्पैम मेल सृजित करने के मामले में एशिया और दक्षिण अमेरिका के देश आगे रहे हैं।

स्पैम मेल भेजने के संबंध में जनवरी 2012 में इटली को सातवें स्थान पर रखा गया है। हालांकि दिसंबर 2011 के मुकाबले जनवरी 2012 में 0.25 प्रतिशत कम स्पैम मेल भेजे गए। ब्रिटेन को आठवां स्थान दिया गया है। ब्रिटेन से जनवरी 2012 में 1.95 प्रतिशत अधिक स्पैम मेल भेजे गए हैं। यहां बता दे कई बार जब आप अपने ई-मेल अकाउंट में जाते हैं तो अनजान ई-मेल आईडी से अजीब तरह के ईमेल्स आप पातें होंगे। कई बार तो ईनाम होता होगा तो कभी कोई पोर्न फिल्म । इतना ही नहीं ध्यान रखें कि स्पैम और हैकरों से बचने के लिए आपको सुझाव के रूप में जो मेल आते हैं, वह भी एक स्पैम होता है। जिसे आप न सिर्फ खोल कर अपने कंप्यूटर को नुकसान पहुंचाते हैं, बल्कि उसे एक महत्वपूर्ण जानकारी समझ अपने दोस्तों को फॉरवर्ड कर उनका भी नुकसान करते हैं।
(दिल्ली (ब्यूरो)। भ्रष्टाचार में आगे, प्रदूषण में आगे, नेट पर पोर्न देखने में आगे अब पता चला है कि नेट पर स्पैम फेंकने में हम भारतीय सबसे आगे हैं। जनवरी 2012 में भारत से सर्वाधिक स्पैम मेल भेजी गई। भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी क्रांति का एक एक पहलू यह भी है कि दुनिया भर में स्पैम मेल सृजित करने में भारत का पहला स्थान है। एंटी वायरस साफ्टवेयर से जुडे़ एक अध्ययन में कहा गया है कि जनवरी 2012 में भारत से सर्वाधिक स्पैम मेल सृजित की गईं। इस अवधि में दुनिया भर में जितनी स्पैम मेल भेजी गयी उनमें 11.5 प्रतिशत हिस्सेदारी भारत की रही है।

दूसरे स्थान पर इंडोनेशिया रहा है। हालांकि जनवरी 2012 में दिसंबर 2011 इंडोनेशिया में लगभग तीन प्रतिशत कम स्पैम सृजित की गईं। इंडोनेशिया के बाद तीसरे स्थान पर दक्षिण कोरिया रहा है। दक्षिण कोरिया से जनवरी 2012 में पिछले महीने के मुकाबले 1.6 प्रतिशत अधिक स्पैम मेल सृर्जित की गई हैं।

स्पैम मेल सृजित करने के मामले में दक्षिण अमेरिका के ब्राजील को चौथा और पेरू को पांचवां स्थान मिला है। हालांकि स्पैम मेल सृजित करने में ब्राजील में 2.1 प्रतिशत और पेरू में 2.5 प्रतिशत की गिरावट आई है। विएतनाम को स्पैम मेल भेजने में छठा स्थान मिला है। दिसंबर 2011 में भी यह इसी स्थान पर था। विश्व स्तर पर स्पैम मेल भेजने के मामले में विएतनाम की हिस्सेदारी 0.25 प्रतिशत है। स्पैम मेल सृजित करने के मामले में एशिया और दक्षिण अमेरिका के देश आगे रहे हैं।

स्पैम मेल भेजने के संबंध में जनवरी 2012 में इटली को सातवें स्थान पर रखा गया है। हालांकि दिसंबर 2011 के मुकाबले जनवरी 2012 में 0.25 प्रतिशत कम स्पैम मेल भेजे गए। ब्रिटेन को आठवां स्थान दिया गया है। ब्रिटेन से जनवरी 2012 में 1.95 प्रतिशत अधिक स्पैम मेल भेजे गए हैं। यहां बता दे कई बार जब आप अपने ई-मेल अकाउंट में जाते हैं तो अनजान ई-मेल आईडी से अजीब तरह के ईमेल्स आप पातें होंगे। कई बार तो ईनाम होता होगा तो कभी कोई पोर्न फिल्म । इतना ही नहीं ध्यान रखें कि स्पैम और हैकरों से बचने के लिए आपको सुझाव के रूप में जो मेल आते हैं, वह भी एक स्पैम होता है। जिसे आप न सिर्फ खोल कर अपने कंप्यूटर को नुकसान पहुंचाते हैं, बल्कि उसे एक महत्वपूर्ण जानकारी समझ अपने दोस्तों को फॉरवर्ड कर उनका भी नुकसान करते हैं।

(वन इंडिया)

No comments:

Post a Comment