Wednesday, April 11, 2012


इंडोनेशिया में भूकंप,
भारत में सुनामी की चेतावनी

सुमात्रा/बेंगलूरु। इंडोनेशिया में 8.7 तीव्रता का भूकंप आने के बाद सुनामी का अलर्ट जारी कर दिया गया है। इंडोनेशिया के साथ ही साथ भारत के कई हिस्सों में भी भूकंप के झटकों को महसूस किये गये। भारत में तमिलनाडु, बैंगलोर, असम, कोलकाता और मुंबई में भी झटकों को महसूस किया है।

प्राप् जानकारी के अनुसार भूकंप की तीव्रता 8.7 रेक्टर स्केल थी और इसका केंद्र सुमात्रा बताया जा रहा है। फिलहाल किसी भी हानि की सूचना अभी तक नहीं मिली है। बात अगर भारत की करें तो जिन राज्यों में भूकंप के झटके महसूस किये गये है वहां भी किसी प्रकार के नुकसान होने की सूचना नहीं है। जानकारी के अनुसार भूकंप के बाद इंडोनेशिया में सुनामी की चेतावनी जारी कर दी गई है।
जानकारी की मानें तो भारत में सबसे ज्यादा झटका कोलकाता में महसूस किया गया है। इस कंपन के बाद दीवारों में दरार गये हैं। लोग अपने घरो से बाहर निकलकर खुले आसमान के नीचे गये। इस भूकंप के झटके भुवनेश्वर-कटक में भी महसूस किये गये। भारत, श्रीलंका, इंडोनेशिया और म्यांमार सहित 28 देशों में सुनामी की चेतावनी दे दी गई है। सीधे शब्दों में कहें तो इस झटके से पूरी दुनिया हिल गई है।
33 किलोमीटर नीचे भूकंप का केंद्र
इस भूकंप का केंद्र सुमात्रा में जमीन के अंदर 33 किलोमीटर नीचे है। एशिया पैसिफिक के भूगर्भ केंद्र ने भारत, श्रीलंका और इंडोनेशिया सहित 20 से ज्यादा देशों में सुनामी आने की आशंका व्यक् की है। इसमें भारत का अंडमान निकोबार द्वीप समूह संवेदनशील माना जा रहा है। चेतावनी के बाद भारत सरकार ने एक चेतावनी जारी करते तटों को खाली कराने के आदेश दे दिये हैं। साथ ही मछुआरों से अपील की है कि समुद्र के बीच नहीं जायें।

थाईलैंड में एयरपोर्ट खाली करा लिया गया है। यहां पर समुद्र से कुछ ही किलोमीटर की दूरी पर स्थित एयरपोर्ट से लोगों को सुरक्षित स्थान पर जाने की अपील की जा रही है। यहां का ट्रैफिक रोक दिया गया है। सुनामी की चेतावनी के बाद तटों को खाली कराया जा रहा है।
सुनामी सेंटर के मुताबिक भारतीय महासागर में इस भूकंप के कारण भी सुनामी उत्पन् होने का खतरा बढ़ गया है। लिहाजा एशिया केंद्र ने फिर से सुनामी की चेतावनी जारी कर दी है। भारतीय प्रशासन लगातार नजरें बनाये हुए है, क्योंकि माना जा रहा है कि अगर सुनामी आयी तो तमिलनाडु के पूर्वी तट पर भारी क्षति पहुंचा सकता है। अनुमान है कि यदि सुनामी आया तो ऊंची लहरें भी उठ सकती हैं।
उधर केंद्र सरकार पोर्ट ब्लेयर से भी पल-पल की जानकारियां ले रही है। केंद्रीय आपदा प्रबंधन विभाग ने ऐतयात के तौर पर पोर्ट ब्लेयर और चेन्नई के लिए दो अलग-अलग टीमें रवाना कर दी हैं।
www.apkinews.blogspot.com

No comments:

Post a Comment